नया साहित्य
 
नया साहित्य
 

Header

कुछ महत्वपूर्ण पुस्तकें
सभी पुस्तकें एडोब रीडर में पढ़ी जा सकती हैं
डाउनलोड करने के लिए एडोब रीडर डाउनलोड



प्र. १८. आखिर राममंदिर उस विवादित स्थल पर ही क्यों बनाना चाहिए ? इसका सटीक उत्तर तो एक प्रति प्रश्न द्वारा ही संभव है । आखिर राम का मंदिर उस विवादित स्थल पर ही क्यों न बनाया जाए ? विवादित स्थल ही वह स्थान है जहां राम जन्मे - वह जन्म स्थान राम का है । इतना कारण ही पर्याप्त है । मर्यादा पुरुषोत्तम राम एक उत्कृष्टतम मानव के साक्षात स्वरूप थे । ऐसे भगवान समान दिव्य महामानव के जन्मस्थान पर मंदिर बनाने में कैसा भी एतराज होना तो साक्षात मानवता का तथा अप्रतिम मानवीय मूल्यों का ही अपमान होगा ।
और...
   


इन दोनों बार बार ऐसी घोषणाएं की जा रही है जिनसे भारत और विश्व को यह विश्वास हो जाए कि इस्लाम शांति का संदेश देने वाला मजहब है। ये घोषणाएं कुरआन का संदर्भ देकर की जा रही है। आजकल ऐसी घोषणाओं ने एक फैशन का रुप ले लिया है जबकि भारत और विश्व का अनुभव इनके बिल्कुल विपरीत है। जहां तक भारत का प्रश्न है भारत ने तो तथाकथित इस्लामी शांति को लगभग पिछले एक हजार वर्षो से भुगता है और दुर्भाग्य यह है कि भारत को छद्म शांति को अभी भी भुगतान पड़ रहा है। इस पुस्तक के प्रकाशन का यही लक्ष्य है कि भारत भारत ही बना रहे और इसे पढ़कर भारतीय अपनी कमर कस लें कि भारत दारुल इस्लाम नहीं बननें देना है
और...
 
अन्य हिन्दी पुस्तकें
     
  गौरव घोष
संगठन की द्विमासिक पत्रिका
  लव जिहाद
लक्ष्मीप्रसाद जायसवाल
  क्या हिन्दुस्थान में हिन्दू होना गुनाह है ?
अश्विनी कुमार ( सम्पादक पंजाब केसरी )
  इस्लाम ही आतंकवाद
पं० महेन्द्र पाल आर्य (पूर्व मौलवी महबूब अली )
  इस्लामिक आतंकवाद का इतिहास
लक्ष्मी शंकराचार्य
  बाइबिल में नारी की स्थिति
डा० हिम्मत सिंह गोगलिया
  मातृ भाषा और शिक्षा
डा० देवेन्द्र दीपक
  श्रीमद्भगवद्गीता ही आदि मनुस्मृति
अशोक सिंहल
  बाबा बंदा सिंह बहादुर
जीवन परिचय
  इस्लाम-अरब साम्राज्यवाद
अनवर शेख
  जँह जँह राम चरण चलि जाहीं ( श्री राम वन गमन स्थल )
शोधकर्ताकर्ता . डा0 रामअवतार शर्मा
  गीता पदार्थ कोष
महात्मा गांधी
  हिन्दुस्थान में मदरसे
देवेन्द्र मित्तल
  भारतीय इतिहास के छ स्वर्णिम पृष्ठ
वीर सावरकर
यदि उस समय के विजयी हिन्दू -जगत्‌ ने रोटीबन्दी ,बेटीबन्दी, शुद्धिबन्दी सिन्धुबन्दी इत्यादि सामाजिक रूढ़ियो को तोड़कर एक तरफ से सब मुसलमानों को शुद्ध कर पात्रापात्र विवेकपूर्वक अपनी परम्परा में आत्मसात्‌ कर लिया होता तो यह हिन्दुस्थान उसी समय स्पेन आदि देशों के समान ही मुस्लिम-विहीन हो गया होता और यह सही अर्थ में'हिन्दुओं का स्थान बन जाता'।
                                                                                                                       ……………………………………और
  समुत्कर्ष प्राप्ति की राजविद्या
पु ग सहस्रबुद्धे
अंग्रेज फ्रांसीसी पुर्तगाली ये सभी पापाचरणी थे अधर्माचारी थे नीति भ्रष्ट हो चुके थे। हमने पुण्य साधन किया धर्म मार्ग का अनुगमन किया नीतिनिष्ठ बने तो भी ऐश्वर्य विजय श्री भूमि विद्या कला स्वतंत्रता तथा साम्राज्य का लाभ उन्हें हुआ और दरिद्रता दुःख अज्ञान परतन्त्रता दास्य ये सब हमारे हिस्से में आये।
                                                                                                                       ……………………………………और
  जिहाद के प्रलोभन : सैक्स व लूट
अनवर शेख
  जिहाद और गैर मुसलमान
डा० कृष्ण वल्लभ पालीवाल
  जिहादियों को जन्नत केवल कियामत बाद
डा० कृष्ण वल्लभ पालीवाल
  भारतीय इतिहास का विकृतीकरण
रघुनंदन प्रसाद शर्मा
  विश्वव्यापी भारतीय संस्कृति - रघुनंदन प्रसाद शर्मा
हिन्दू संस्कृति ही भारतीय संस्कृति है और भारतीय संस्कृति सम्पूर्ण जगत की संस्कृति है । केवल भारतीय संस्कृति ही इस बात का अभिमान कर सकती है कि सहस्रॊ वर्षों से उसका जीवन अविच्छिन्न है और युग युग से वह अपनी विजय पताका फहराती आ रही है ।
  तालिबान - इस्लाम व शांति
मुझे लोगों से तब तक युद्ध करने का आदेश मिला है जब तक वे यह न सत्यापित करने लगे कि अल्लाह के अतिरिक्त कोई और उपास्य नहीं है
  श्री राम जन्म भूमि के सम्बन्ध में बहुधा पूछे जाने वाले प्रश्न
प्रकाशक - श्री राम जन्म भूमि न्यास
  क्या गैरमुसलमानों पर इस्लाम स्वीकार करना अनिवार्य है ?
शैख मुहम्मद बिन सालेह अल - उसैमीन रहिमहुल्लाह
islamhouse.com से साभार
  इस्लाम कामवासना और हिंसा
अनवर शेख
कोई भी ईश्वर अपने अनुयायी बनाने हेतु कामवासना पूर्ति और हिंसा का मार्ग नहीं अपनाएगा । दैवत्व की अवधारणा के प्रति घातक हॊने के कारण यह ईश निंदा है । यह तो केवल अरब साम्राज्य बनाने के लिए मोहम्मदी योजना का अंग है
  कुरान की आयतों पर अदालत का निर्णय
कुरान मजीद की पवित्र पुस्तक के प्रति आदर रखते हुए उक्त आयतों के सूक्ष्म अध्ययन से स्पष्ट होता है कि ये आयतें बहुत हानिकारक हैं और घृणा की शिक्षा देती हैं
  हिन्दुत्व के स्वर
डा० कैलाश चन्द्र
इण्डोनेशिया की विमान सेवा का नाम गरुड़ एयरवेज है । भूतपूर्व राष्ट्रपति सुकर्ण स्वयं को पृथ्वी पर विष्णु का अवतार मानते थे इसीलिए उनका वाहन गरुड़ कहलाया ।
  अयोध्या विवाद का हल
डा० सुरेन्द्र
इस पुस्तक का उद्देश्य है न्यायालय की मनमानी से भारत की विशाल जनता को छुटकारा दिलाना और अयोध्या में विवादित स्थल पर श्री राममंदिर का निर्माण करना
  दी गीता आन मैनेजमैण्ट
डा० मोहन खुराना
हमारी आदरणीय पुस्तक गीता जो संसार में व्यापक रूप से पढ़ी जाती है ने जीवन के हर पहलू को छुआ है
  सूफियों द्वारा भारत का इस्लामीकरण
पुरुषोत्तम
इस लिहाज से मैं सूफियों और पीरों को इस्लाम में भर्ती कराने वाली संस्था ही मानता हूं और मेरी चुनौती है कि कोई इसके विपरीत तथ्य नहीं ला सकता है
  इस्लाम - अरब राष्ट्रीयता का साधन
अनवर शेख
इस विचारधारा का आधार मुसलमानों के इस अन्ध विश्वास पर है कि मुहम्मद उन्हें स्वर्ग दिलवा सकता है ---------------------
  आऒ राष्ट्र रक्षा में जुट जाएं
डा० कृष्ण वल्लभ पालीवाल
( हिन्दू राइटर्स फोरम )
क्योंकि कुरान की शिक्षाओं के अनुसार उनका सुस्पष्ट अंतिम उद्देश्य भारत में इस्लामी राज स्थापित करना है
  भारतीय मुसलमानों के हिन्दू पूर्वज मुसलमान कैसे बने
पुरुषोत्तम
  और आपको मुक्त कर दिया जाएगा
डेविड आइके
पूरे विश्व को गुलाम करने के षणयन्त्र को उजागर करने वाली पुस्तक
  मुस्लिम राजनीतिक चिंतन और आकांक्षाएं
ले0 ज0 पुरुषोत्तम
पृथ्वी तो अल्लाह और उसके रसूल की है इसीलिए अपनी छिनी हुई वस्तु की पुनः प्राप्ति के लिए निरंतर जिहाद करना विधिसम्मत है
  हमारे मूल कर्त्तव्य
डा0 विजय नारायण मणि त्रिपाठी
अनेक दशक बीत जाने के पश्चात्‌ भी संविधान के उन मूल कर्तव्यों के पालन के प्रति कोई सजगता दिखाई नहीं दी। हमारी जानकरी के अनुसार इन कर्तव्यों का विवेचन करने वाली कोई पुस्तक अभी तक भारत की किसी भाषा में प्रकाशित नहीं हुई है।
  भारत में सैकुलर राजनीति
सांस्कृतिक गौरव संस्थान में भारत में सैकुलर राजनीति विषय पर हुई संगोष्ठी पर वक्ताऒं के भाषणों का संकलन
  आज इस्लाम के मसले
इरशाद मांजी
फ्रांस में किसी ने इस्लाम को 'बेवकूफी का मजहब' कहा तो उस पर मुकदमा ठोका गया। पर क्या यह गलत है कि हमें किसी ने तो कहा जागो
  इस्लाम के सैनिक
ले0 ज0 पुरुषोत्तम
  Minorities and Social Justice: Problems & Policy Options
by B. P. Singhal
  Why Muslims Destroy Hindu Temples
अनवर शेख
  ISLAMISATION OF INDIA BY SUFIS
पुरुषोत्तम
इस लिहाज से मैं सूफियों और पीरों को इस्लाम में भर्ती कराने वाली संस्था ही मानता हूं और मेरी चुनौती है कि कोई इसके विपरीत तथ्य नहीं ला सकता है
  Jihad In the Way of Allah
डा० कृष्ण वल्लभ पालीवाल
( हिन्दू राइटर्स फोरम )
  Two Faces of jihad
डा० कृष्ण वल्लभ पालीवाल
( हिन्दू राइटर्स फोरम )
  The Meaning of jihad
डा० कृष्ण वल्लभ पालीवाल
( हिन्दू राइटर्स फोरम )
  Jihad & Jannt in Hadis
डा० कृष्ण वल्लभ पालीवाल
( हिन्दू राइटर्स फोरम )
  CristmaS - Fact or Fiction
डा० कृष्ण वल्लभ पालीवाल
( हिन्दू राइटर्स फोरम )
  ISLAM THE ARAB IMPERIALISM
अनवर शेख
  The Condition Of a Non Muslim In a Islamic State
Samuel Shahid
  THE GLORY THAT IS HINDUTVA
by B. P. Singhal
 
Footer